Main content

पॉलिटेकनिकों द्वारा सामुदायिक विकास योजना

संस्थाओं से निम्न निर्देशों का पालन करने का आग्रह किया जाता है :

निम्न समय-सारणी के अनुसार भौतिक उपलब्धि प्रतिवेदन, तिमाही (अनुलग्नक-जे) प्रस्तुत करना :

पहली तिमाही     -      अप्रैल-जून

दुतीय तिमाही     -      जुलाई-सितम्बर

तृतीय तिमाही     -      अक्टूबर-दिसम्बर

चतुर्थ तिमाही     -      जनवरी-मार्च

Þ                  तिमाही प्रतिवेदन प्रत्येक तिमाही के अन्त में प्रस्तुत किए जा सकते हैं।

Þ                  यू.जी.सी. के स्केन प्रति, पीएआर तथा अन्य दस्तावेज हमें ई-मेल से भेजे जा सकते हैं।

जिन संस्थाओं ने वार्षिक प्रचालन योजना (अनुलग्नक-आई) नहीं भेजा है, वह फारमैट को भर कर निम्न ई-मेल पते पर भेज सकते हैं :

Þ                  सी.डी.टी.पी./ www.nitttrbpl.ac.in फारमैट को नीचे दिए सूत्रों से डाउनलोड किया जा सकता है।

अनुलग्नक-आई (वार्षिक प्रचालन योजना) डाउनलोड कीजिए।

अनुलग्नक-जे (भौतिक उपलब्धि प्रतिवेदन) डाउनलोड कीजिए।

Þ                  मा.सं.वि.मं., नई दिल्ली को सामुदायिक विकास योजना का प्रतिवेदन भेजने के लिए सारे प्रलेखों (दस्तावेजों) को यथासमय प्रस्तुत करना है। 31.12.2010 को सीडीटीपी योजना के अंतर्गत शेष की स्थिति मा.सं.वि.मं., नई दिल्ली द्वारा अपेक्षित

Þ                  रातशिप्रअनुसं भोपाल से पत्र मा.सं.वि.मं. नई दिल्ली से पत्र

31.12.2010 को शेष की स्थिति का फारमेट. 

पॉलीटेक्निकों द्वारा सामुदायिक विकास योजना (सीडीटीपी) की समीक्षा एवं योजना कार्यशाला।

Þ                  महाराष्ट्र राज्य

Þ                  मध्यप्रदेश राज्य

Þ                  गुजरात राज्य

Þ                  छत्तीसगढ़ राज्य

Þ                  गोवा राज्य